किसी भी मार्ग से उस तक पंहुचा जा सकता है।

किसी भी मार्ग से उस तक पंहुचा जा सकता है।

किसी भी मार्ग से उस तक पंहुचा जा सकता है।

सभी मार्ग वहां तक पहुंचते है इसका उदहारण है स्वामी राम कृष्ण परम हंस। स्वामी राम कृष्ण परम हंस अकेले ऐसे व्यक्ति थे हिन्दू मुस्लिम तिब्बत तथा अन्य मार्गो से परमात्मा को पाया तथा लोगो को समझाया कि किसी भी मार्ग से उस तक पंहुचा जा सकता है। बस उसके लिए केवल एक ही बात प्रमुख है कि मनुष्य उस मार्ग पर चले कि अपने मार्ग पर खड़ा होकर दूसरे मार्ग पर चलने वालो को रोके।