श्रद्धा से परमात्मा

श्रद्धा से परमात्मा

क्या श्रद्धा से परमात्मा की प्राप्ति होती है?

तुम अब तक मानते आये हो श्रद्धा से परमात्मा की प्राप्ति होती है यह उन लोगो का कहना है जो मानते है परमात्मा दूजा है उन्हें लगता है कोई चार हाथ वाला दूसरे ग्रह से आया हो लेकिन यह सिद्धांत ही बिल्कुल गलत है मेने तुम्हे बार-बार कहा है ऐसा परमात्मा चित्रो,मूर्तियों में दिखता है वह तुम्हे जीवन भर न मिलेगा और न कभी किसी को मिला ।

सत्ये तो यह हे की श्रद्धा से परमात्मा नहीं पाया जाता क्यूंकि परमात्मा दूजा हे ही नहीं श्रद्धा ही परमात्मा है अगर तुम्हारे मन में श्रद्धा है तो तुम्हरे मन में परमात्मा का अभिवाव हुआ बस यही सत्ये है !